Justice Denied: The Curious Case of an Inordinate Delay in a Judge’s Elevation

The Centre’s disregard for procedure and recommendation when it comes to Justice A.A. Kureshi is mysterious and telling. Consider the following sequence of events: In 1983, a  young man – let’s call him Y.M. – gets an LL.B. degree and starts practicing as an advocate in the high court of state ABC. In March 2004, […]

Continue reading


Should the Indian taxpayer pay the hidden cost of donations to political parties?

Sruthisagar Yamunan deserves to be complimented for his informative article that brings out a hidden dimension of the electoral bonds used to make anonymous donations to political parties in India. Headlined “controversial electoral bonds are not only opaque, they come at a cost to the Indian taxpayer, the article asserts that there’s an invisible cost […]

Continue reading


सूचना कानून पर मंडराता खतरा: आम लोगों को सशक्त बनाने वाला कानून को कमजोर करने की कोशिश

[ जगदीप एस छोकर ]: सूचना अधिकार कानून यानी आरटीआइ में संशोधन का एक और प्रयास शुरू हो गया है। यह प्रयास पहले किए गए प्रयासों से कुछ हटकर है। अब तक किए गए प्रयासों में संशोधन प्रस्ताव का मसौदा बनाकर विभिन्न वर्गों और जनता के बीच चर्चा के लिए रखा जाता था। वर्तमान संशोधन प्रस्ताव को […]

Continue reading


राजनीतिक दलों का रवैया

Chhokar sir article - october 2015 - Copy (3)

Text: जब से उच्चतम न्यायालय की पांच सदस्यीय पीठ ने संविधान के 99वें संशोधन को असंवैधानिक घोषित करते हुए राष्ट्रीय न्यायिक नियुक्ति आयोग को खारिज किया और कोलेजियम व्यवस्था का पक्ष लिया तब से यह विषय लगातार चर्चा में है। अधिकतर टिप्पणीकारों ने इसे या तो सरकार और न्यायपालिका के बीच का संघर्ष कहा है […]

Continue reading


Disruptions in Parliament or a stuck GST Bill: What’s bothering India Inc?

CII-ARTICLE-IMAGE

Disruptions in Parliament or a stuck GST Bill: What’s bothering India Inc? Industry captains’ petition on change.org won’t be enough to get MPs to work.  India and India Inc have come a long way since 1944-45 when eight leading lights of Indian industry (J R D Tata, G D Birla, Ardeshir Dalal, Shri Ram, Kasturbhai […]

Continue reading


कैसे रुकेगी संसद में भिड़ंत

Blog article thumb

संसद के मानसून सत्र में हुए हंगामे और सत्ता पक्ष और विपक्ष में बढ़ते टकराव से देश बहुत चिंतित है। पिछले दिनों इसी पृष्ठ पर आरके सिन्हा ने ‘संसदीय लोकतंत्र को खतरा लेख में लिखा था कि ‘देश में विकास की बयार बहे इसके लिए जरूरी है कि परस्पर संवाद का वातावरण बना रहे। यह […]

Continue reading